National Youth Day- क्या है राष्ट्रीय युवा दिवस 2024 की थीम

National Youth Day

National Youth Day– पूरा देश 12 जनवरी को राष्ट्रीय युवा दिवस मनाने के लिए तैयार है. राष्ट्रीय युवा दिवस भारत के उन युवाओं व नौजवानों को समर्पित एक खास दिन है, जो देश के भविष्य को बेहतर और स्वस्थ बनाने का क्षमता रखते हैं। भारतीय युवा दिवस को 12 जनवरी को मनाने की एक खास वजह है। स्वामी विवेकानंद के जन्मदिन पर देश के युवाओं पर उनके प्रभाव को देखते हुए उन्हें सम्मान देने के लिए वर्ष 1984 को शुरू किये गए National Youth Day के इस बार 40 वर्ष हो रहे हैं.

स्वामी विवेकानंद धर्म, दर्शन, इतिहास, कला, सामाजिक विज्ञान, साहित्य के ज्ञाता थे। शिक्षा में अच्छे होने के साथ ही विवेकानंद भारतीय शास्त्रीय संगीत का भी ज्ञान रखते थे। स्वामी विवेकानंद युवाओं के लिए किसी प्रेरणा से कम नहीं हैं। उनके जन्मदिन पर मनाये जाने वाले राष्ट्रीय युवा दिवस 2024 के अवसर पर आज हम वर्ष 2024 के लिए निर्धारित की गई थीम को जानेंगे.

क्या है राष्ट्रीय युवा दिवस 2024 की थीम

हर साल National Youth Day पर युवाओं को प्रेरित करने के लिए एक थीम निर्धारित की जाती है. इस बार वर्ष 2024 के लिए राष्ट्रीय युवा दिवस की थीम “इट्स ऑल इन द माइंड” अर्थात् “सब कुछ आपके दिमाग में हैं” रखी गई है. युवा दिवस पर थीम निर्धारित करने का उद्देश्य भी युवाओं को प्रोत्साहित करना है.

इस बार ये थीम रखने के पीछे का कारण भी यही है कि युवाओं को समझाया जा सके कि आप जो भी करना चाहते हैं वो आप कर सकते हैं, कैसे करना है या क्या करना है या आप जो भी अपने लक्ष्य के प्रति महसूस करते है ये सब आपके दिमाग में है. आपको बस गहराई से अपने आप में विचार करना है, आगे सब स्पष्ट हो जायेगा.

National Youth Day के मौके पर केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय, रामकृष्ण मठ और रामकृष्ण मिशन द्वारा देश भर में कई कार्यक्रम आयोजित किये जाते है. इसके अलावा स्कूलों और कॉलेजों में भी कई तरह के कार्यक्रम का आयोजन होता है. कई जगहों पर स्वामी विवेकानंद पर भाषण प्रतियोगिता, गीत, निबंध लेखन आदि का आयोजन किया जाता है.

National Youth Day- उद्देश्य

युवा दिवस का उद्देश्य जीवन में आने वाली चुनौतियों, परेशानियों को देखना, समझना और उन्हें दूर करने के प्रयास को लेकर युवाओं को प्रेरित करना भी है। युवा दिवस देश के बेहतर भविष्य के लिए युवाओं की सहभागिता बढ़ाने के संकल्प का अवसर है। इस दिन को युवा दिवस के रूप में मनाए जाने का उद्देश्य स्वामी विवेकानंद के विचार और आदर्शों के महत्व को बढ़ावा देना है।

स्वामी विवेकानंद के विचार आज भी पूरे विश्व के युवाओं के बीच प्रेरणा और ऊर्जा भरने का कार्य करते हैं। वे कहा करते थे कि उठो! जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य प्राप्त न हो जाए। राष्ट्रीय युवा दिवस युवाओं के लिए यह विचार करने का भी समय है कि वे भारत के भविष्य को आकार देने में क्या भूमिका निभा सकते हैं और वे देश के विकास और प्रगति में कैसे योगदान दे सकते हैं।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top